Mere paas nahi hai koi sath nahi hai lyrics is sung by Vilen. Lyrics written by Vilen and composed by Vilen & Stk, Music label darks Music Company

MERE PAAS NAHI HAI KOI SATH NAHI HAI LYRICS - Vilen details

MERE PAAS NAHI HAI KOI SATH NAHI HAI LYRICS - Vilen
MERE PAAS NAHI HAI KOI SATH NAHI HAI LYRICS - Vilen


Song - Mere paas nahi hai koi sath nahi hai
Singer - Vilen
LYRICS by - Vilen
Composed - Vilen & Stk
Music Label - darks Music Company

MERE PAAS NAHI HAI KOI SATH NAHI HAI LYRICS


Churaya hi kyu jab wo todna hi tha
Dil bi wo tuta hai jo mere paas nahi Dikhaya hi kyu jab muh modna hi tha Seene mein hawa toh hai par wo saans nahi

Mere paas nahi hai koi saath nahi hai
Jo batade mujhe baat ye khaas nahi
Dil udaas sahi hai koi aas nahi hai
Pagli ankhon ki nami hai ye barsaat nahi

Main bhi na jaane kaha kho gaya tha
Zindagi bhi mujhse khafa ho gayi
Jis din ki is dil ne khudse mohobat
To zindagi bhi mujhpe fida ho gayi

Mere paas nahi hai koi saath nahi hai
Aur na hai ab kisika intezaar kahi
Tere baare mein na sochu aisi raat nahi hai
Par tu tode dil mera teri aukaat nahi

Ankhon mein dhuaa tha maine dekha hi nahi
Khushi peechhe hi thi khadi dabe ye hansi
Dil bhi bola sunn baaware ankhiyon ke dushman
Naa mein kabhi toota tha na khoya tha kabhi
Tere paas yahi hu ye awaaz mein hi hu
Ye kahani teri meri hai zamane ki nahi

Main dhadakta rahoon tu bhi yu hansta rahe
Duniya jaaye saali bhaad mai koi parwa lh hi nahi
Ek raat jaaga main, maine dekha tha saweraa.

MERE PAAS NAHI HAI KOI SATH NAHI HAI LYRICS - Vilen


Ek Raat Lyrics In Hindi



चुराया ही क्यूं जब वो तोड़ना ही था
दिल भी वो टूटा है जो मेरे पास नही
दिखाया ही क्यू जब मुँह मोड़ना ही था
सीने में हवा तो है पर वो साँस नही

मेरे पास नही है कोई साथ नही है
जो बतादे मुझे बात ये ख़ास नही
दिल उदास सही है कोई आस नही है
पगली आँखों की नमी है ये बरसात नही

मैं भी ना जाने कहा खो गया था
ज़िंदगी भी मुझसे खफा हो गयी
जिस दिन की इस दिल ने खुदसे मोहब्बत
तो ज़िंदगी भी मुझपे फिदा हो गयी

मेरे पास नही है कोई साथ नही है
और ना है अब किसी का इंतज़ार कही
तेरे बारे में ना सोचूं ऐसी रात नही है
पर तू तोड़े दिल मेरा तेरी औकात नही

आँखों में धुआँ था मैने देखा ही नही
खुशी पीछे ही थी खड़ी दबे ये हसी
दिल भी बोला सुन्न बावरे अँखियों के दुश्मन
ना मैं कभी टूटा था ना खोया था कही
तेरे पास यही हू ये आवाज़ मैं ही हू
ये कहानी तेरी मेरी है ज़माने की नही

मैं धड़कता रहु तू भी यू हंसता रहे
दुनिया जाए साली भाड़ में कोई परवा ही नही

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

Previous Post Next Post